Home सेहत दिल्ली में स्वाइन फ्लू का Attack

दिल्ली में स्वाइन फ्लू का Attack

478
0
Picture source: Third party.

नई दिल्ली: राजधानी दिल्ली में स्वाइन फ्लू का संक्रमण बढ़ता जा रहा है। सूत्रों की माने तो अभी तक स्वाइन फ्लू के 70 नए मामले सामने आए हैं। जिसके कारण स्वास्थ्य विभाग सतर्क हो गया है और सुप्रीम कोर्ट विभाग ने अदालत परिसर में बुधवार को एक जागरूकता कार्यक्रम आयोजित करने का भी फैसला दिया है। साथ ही विभाग का कहना है कि अस्पतालों में स्वाइन फ्लू की पर्याप्त दवाएं व मास्क उपलब्ध है।

स्वास्थ्य विभाग का यह भी कहना है कि घबराने की कोई ज़रूरत नहीं है, क्योंकि इसके बहुत गंभीर मामले नहीं आ रहे हैं। एक मीडिया हाउस के द्वारा छपी रपट के अनुसार दिल्ली में 16 फरवरी तक स्वाइन फ्लू के 152 मामलों की पुष्टि की गई है। अब यह मामले बढ़कर 222 के ऊपर जा पहुंचा है। इनमें सभी मामलों में 36 बच्चे भी शामिल हैं। वहीं राष्ट्रीय रोग नियंत्रण केंद्र (एनसीडीसी) की रपट के अनुसार पूरे देश में स्वाइन फ्लू के कुल 884 मामले आए हैं। स्वाइन फ्लू के रोगियों कि गिनती के मामले में दिल्ली तीसरे स्थान पर है। पहले और दूसरे स्थान पर तमिलनाडु व तेलंगाना है। आरएमएल अस्पताल में अब तक स्वाइन फ्लू के कुल 27 नए मामले सामने आएं हैं। दिल्ली के सभी अस्पतालों में इलाज के लिए पर्याप्त सुविधा उपलब्ध है।

Picture source: Third party.

डॉक्टर कहते हैं कि बच्चों व बुजुर्गों की रोग प्रतिरोधक क्षमता कमजोर होती है, इसलिए उनका विशेष ख्याल रखा जाना चाहिए। इस स्थिति में ठंडी चीजें खाने से भी परहेज करना चाहिए। यह देखा गया है कि मधुमेह, हृदय की बीमारी, अस्थमा व सांस की अन्य पुरानी बीमारियों से पीड़ित मरीजों के लिए यह बीमारी खतरनाक साबित होती है और इनको ज्यादा ख्याल रखना चाहिए।

सरकार द्वारा जारी विज्ञप्ति के अनुसार सुप्रीम कोर्ट के पांच न्यायाधीश स्वाइन फ्लू की चपेट में हैं। आपको बता दें कि यह बीमारी एचवन एनवन वायरस के कारण होती है। सभी न्यायाधीशों के इलाज कि व्यवस्था की गई है। मंत्रालय ने कहा है कि एचवन एनवन एक मौसमी संक्रमण है, जो आमतौर पर जनवरी से मार्च और जुलाई से सितंबर के बीच होता है और सभी को सलाह दी गई है कि अपना और अपनों का ख्याल रखें।

Story done by Ritesh kumar singh

Facebook Comments